भारत में कोरोना से किसानों पर प्रभाव , जानिए

भारत में कोरोना से किसानों पर प्रभाव  कोरोना वायरस की वजह से पूरे विश्व में काफी ज्यादा नुकसान देखने को मिल रहा है।

पूरे विश्व में अब तक 19000 लोगों की मौत हो चुकी है और भारत में करीब 12 लोगों की मौत हो चुकी है।

भारत में भी कोरोना वायरस से संक्रमित 692 मामले सामने आ चुके ।

कोरोना से किसानों पर प्रभाव से भारत के किसानों को भी काफी ज्यादा नुकसान झेलना पड़ रहा है।

भारत में कोरोना से किसानों पर प्रभाव

  • भारत में कोरोना से किसानों पर प्रभाव  काफी बुरा पड़ा है।
  • क्योंकि आयात और निर्यात बंद होने की वजह से पर
  • बहुत ज्यादा बुरा प्रभाव देखने को मिल सकता है।
  • क्योंकि कोई भी प्रकार के कच्चे पदार्थ का निर्यात देश से नहीं हो पा रहा है।
  • कि सभी सुविधाएं बंद कर दी गई है। जिसकी वजह से लोगों के पास
  • पड़े कई प्रकार के कच्चे माल खराब हो रहे हैं और
  • उनके भाव भी गिर रहे हैं क्योंकि इस वक्त भारत पूरी तरह से लोग हैं|
  • और भारत की बॉर्डर पूरी तरह से ठीक है। ऐसे में ना तो कोई खरीदार मिल रहा है।
  • कच्चे पदार्थ के निर्यात में करीब 1 पॉइंट 6 की गिरावट देखने को मिली |
  • भारत से कई प्रकार के कच्चे पदार्थ जो बहुत ही मात्रा में निर्यात किए जाते हैं।
  • उन पर पूरी तरह से रोक पूरी तरह से रोक लगी हुई है।
  • भारत द्वारा निर्यातित वस्तुओं में
  1. कपास ,
  2. जुट,
  3. ऑर्गेनिक कैमिकल,
  4. औषधि
  5. बागवानी उत्पाद सोयाबीन ,
  6. तंबाक,
  7. फल,
  8. मक्का आदि शामिल हैं।

भारत में अब तक कोरोना वायरस की वजह से 12 लोगों की मौत

भारत में अलग-अलग राज्यों से कुल मिलाकर 12 लोगों की मौत हुई है जो निम्न प्रकार है

1. महाराष्ट्र -2
2.गुजरात -2
3.पंजाब -1
4.हिमाचल प्रदेश – 1
5. दिल्ली -1
6. तमिलनाडु -1
7. केरल -1
8. पश्चिम बंगाल -1
9.बिहार -1
10. जम्मू -1

Read also :- कोरोना लॉक डाउन के बीच पेट्रोल-डीजल के दाम हुए स्थिर, जानिए आज के दाम

फसल बर्बाद होने की वजह से कितने किसानों ने लगाई फांसी

  • किसान जो एकमात्र खेती पर ही अपना गुजारा चलाते हैं।
  • और गुजारा चलाने के लिए कई किसान अपनी जमीन पर या खेती पर कर्ज ले लेते हैं।
  • और कई किसान ऐसे भी है जो किसी से उधार कर्ज भी लेते हैं।
  • फसल बर्बाद होने की वजह से कर्ज का पैसा नहीं चुका पाते हैं
  • और ऐसे में किसान तनाव में आकर खुद की आत्महत्या कर लेता है।
  • भारत में पिछले 2 सालों में आत्महत्या का आंकड़ा देखा जाए तो बहुत ज्यादा है।

पिछले 2 सालों में करीब 4556 लोगों ने आत्महत्या की है इन सभी किसानों ने कर्ज की मार और फसल बर्बाद होने की वजह से आत्महत्या की है।

1 thought on “भारत में कोरोना से किसानों पर प्रभाव , जानिए”

Leave a comment